Type Here to Get Search Results !

बार-बार पेशाब आना | Bar Bar Peshab Aane ka Ayurvedic ilaj

0

 बार-बार पेशाब आना | Bar Bar Peshab Aane ka Ayurvedic ilaj

Bar Bar Peshab Aane ka Ayurvedic ilaj
Bar Bar Peshab Aane ka Ayurvedic ilaj

बहुमुत्र तात्पर्य बार बार पेशाब आने की समस्या बहुमूत्र रोग में बार बार पेशाब आती है और थोड़ी थोड़ी पेशाब आती रहती है। बार बार पेशाब जाने का मन करतना है। यह रोग बच्चों और युवाओ को अधिक देखने को मिलता है और इस रोग में कब्ज, अपच, नींद न आना, अधिक मुत्र आना इस तरह की समस्या और शिकायत रहती ही है। 

रोगी रोज कमजोर होता चला जाता है और कमर और कमर के नीचे के हिस्सों में दर्द रहता है तो चलिए अब जानते है बार बार पेशान आने के कुछ घरेलू उपाय और नुस्के।


  1. रोज सुबह खाली पेट अदरक का रस 1 चम्मच लेने से बार बार पेशान आने की समस्या दूर हो जाती है।
  2. आँवले का सूखा चूर्ण या आँवले का रस गुड़ के साथ मिलाकर लेने से बीमारी में लाभ होता है।
  3. रीढे की गुठली का चूर्ण 1,1 चुम्मच सुबह और शाम ताजे पानी में लेने से पेशान आने की बीमारी दूर हो जाती है।
  4. 20 ग्राम काले तिल और 10 ग्राम अजवायन को मिलाकर पाउडर बना लो फिर इस पाउडर को 50 ग्राम गुड़ में मिलाकर सुबह शाम 1,1 चम्चम सेवन करना चाहिए।
  5. बहेडा तथा जामुन की गुठली दोनों को बराबर मात्रा में पीस लो तथा रोज 1 चम्मच सादा पानी के साथ लो।
  6. टेसू के फूल, काले तिल, कलमी शोरा, दालचीनी, राई यह सब को बराबर की मात्रा में मिलाकर चूर्ण बना लो और रोज सुबह और शाम शहद के साथ मिलाकर चाटों
  7. 10 ग्राम खसखस के दाने और 10 ग्राम गुड़ दोनों को मिलाकर रोज सुबह और दोपहर शाम सेवन करने से पेशाब बार बार आना बंद हो जाएगी।
  8. रात में सोने से पहले गाय के दुध में पकाये हुए 4 छुआरे खाने से बार बार पेशान आने से राहत मिलेगी।
  9. मुलहठी और मुश्री और काली मिर्च इन तीनों को बराबर की मात्रा मे मिलाकर चूर्ण बना लो और रोज सबुह और शाम आथा चम्मच चूर्ण घी में पेस्ट बनाकर चाटो।
  10. पिस्ता और काली मिर्च और मुनक्का इनको समान मात्रा में लेना है जैसे 6 दाने पिस्ता के औऱ 6 दाने मुनक्का के और 6 काजू सुबह औऔर शाम को चबाकर खाने से मूत्र का बार बार आने समाप्त हो जाएगा।

पेशाब जलन के घरेलू उपचारToilet me jalan ke upay  

इस रोग में पेशाब की जगह पर दर्द होता है और बार बार पेशान जाने का मन करता है और पेशाब करते हुए जलन और दर्द भी होता है जिससे पेशाब करने में बहुत कष्ट होता है, तो चलिए जानते है अब पेशाब जलन के कुछ घरेलू उपचार।

 

  1. 5 से 6 आँवले का रस निकालकर उसमें शहद मिलाकर पीओ।
  2. चावल के मांड में मिश्री मिलाकर पीने से पेशान की जलन समाप्त हो जाती है।
  3. रोजाना गाजर का रस पीने से पेशाब की जलन से राहत मिलेगी।
  4. लौकी और तरोई उबालकर जौ की रोटी के साथ खाने से राहत मिलेगी।
  5. चौलाई के पत्तों का सूप हींग और जीरा डालकर पीने से दर्द खत्म हो जाएगा।
  6. त्रिफला चूर्ण का काढ़ा गुड़ मिलाकर पीने से आराम मिलता है।
  7. अनार के छिलके का पाउडर बनाए तथा ताजे पानी मे एक चम्मच दो तीन बार रोज सेवन करो।
  8. दो प्याज की गांठ ले कर उसे बारीक काटकर 1 ग्लास पानी में उबालो और पानी आधा होने के बाद छान कर पीओ।
  9. ककड़ी को बारीक काटकर और उसमें मिश्री मिलाकर सलाद के रूप में खाने से पेशाब की समस्या खत्म हो जाती है।
  10. आधा किलों मुली के पत्तों का रस निकालकर उसमें 3 चम्मच कलमी शोरा मिलाकर पीने से पेशान की जलन हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी।
  11. धनिया और सफेद चंदन और सुखा हुआ आँवला और मिश्री इन सबको 10, 10 ग्राम की मात्रा में लेकर पानी में भिगो दो और सुबह खाली पेट वह पानी छानकर पीलो।
  12. पोस्ता दाना और हल्दी और सुखा आँवला इस तीनों को समान मात्रा मे 10 ग्राम लेकर पाउडर बनाए फिर इसे आधा किलों पानी में भिगो दो और सुबह उस पानी को छानकर पीओ इससे पेशान का बार बार आना और जलन दोनो कम होगी।
  13. 4 चम्मच मुली का रस जरा सा सेंधा नमक डालकर पीओ।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad

Below Post Ad