Type Here to Get Search Results !

पीलिया जड़ से खत्म करने कि आयुर्विदिक दवा- Piliya ki chamatkari dawai

0

पीलिया के घरेलू उपचार- piliya ki dawa hindi me

पीलिया जॉन्डिस- पीलिया रोग अधिकांशतः पानी की अशुद्धि के कारण होता है। इसका मुख्य कारम शरीर में सही ढंग से खून ना बनना है। इसी कारण शरीर में पीलापन आ जाता है। सबसे पहले आखों में पीलापन आने लगता है इसके बाद शरीर और मूत्र में भी पीला पन आते लगता है। भूख न लगना तथा भोजन को देखकर उल्टी आना मुह का स्वाद कड़वा हो जाना , शरीर में खुजली अनिद्र कमजोरी आना और नाड़ी की गति धीरे धीरे चलना आदि पीलिया के लक्षण होते है। इसके साथ गंभीर रोगो के लिए घऱेलू चिकत्सा नची आपको बताई जा रही है जिसके प्रयोग से आप पीलिया कि भयानक बीमारी से बच सकते है तो चलिए नीचे जानते है कि पीलिया के घरेलू उपचार कौन कौन से हैं।

Piliya ki chamatkari dawai
Piliya ki chamatkari dawai

 पीलिया जॉन्डिस-Home Remedies for Jaundice in Hindi

  1. गिलोय का चूर्ण एक एक चम्मच सुबह और शाम सादे पानी के साथ लेना है इससे आपका पीलिया रोग ठीक हो जाएगा।
  2.  
  3. मूली और गाजर के कोमल पत्ते नमक लगाकर खाना चाहिए।
  4. ताजे गन्ने गा रस दिन में 2 से 3 बार निंबू मिलाकर पीना चाहए।
  5. कड़वे नीम के कोमल पत्तों का रस निकालकर उसमें मिश्री मिलाकर गरम करे और ठंडा होने के पश्चात पीलिया के रोगी को पिलाए, इस प्रक्रिया से पीलिया जड़ से खत्म हो जाएगा। इसके अवावा यदि रस और घी को शहद के साथ चाटोगे तो भी आराम मिलेगा।
  6. गिलोय चूर्ण शहद में मिलाकर चाटने से भी पीलिया की बीमारी सही हो जाएगी।
  7. त्रिफला चूर्ण शङद में मिलाकर सुबह शाम चाटने से पीलिया से काफी आराम मिलेगा।
  8. काली मिर्च और शहद मिलाकर ले सकते है।
  9. त्रिफला चूर्ण का काढा बनाएँ उसमें मिश्री और घी मिलाए और सेवन करे।
  10. बड़े  हरड़ का पावडर गुड़ के साथ मिलाकर खाने से पीलिया में लाभ होगा।
  11. गिलोय के पत्तो को पीसकर मट्टे के साथ मिलाकर पीने से भी आराम मिलात है।
  12. एक चुटकी छोटी हरड़ का चूर्ण शङद के साथ चाटने से पीलिया में आराम मिलता है।
  13. सौ ग्राम गुड़ के साथ पान में खाने वाला एक तोला चूना मिलाकर खाने से पीलिया में तत्काल आराम मिलने लगता है। एक एक हफ्ते के अन्तराल में लगातार तीन चार बार लेने से पीलिया हमेशा के लिए समाप्त हो जाता है।
  14. बेल के पत्तों का रस निकालकर उसमें चुटकी भर काली मिर्च का चूर्ण मिलाएँ और सुबह शाम दो चम्मच पीए।
  15. त्रिफला और गिलोय और अडूलसा और कुटकी और चिरायता इस पाँचों चीजो का काढ़ा बनाकर सुबह शाम लेने से पीलिया रोग में लाभ मिलेगा।
  16. एक तोला सौंठ का चूर्ण शहद के साथ मिलाकर सुबह शाम उपयोग करों पीलिय से राहत होगी।
  17. बथुए के बीज का चूर्ण बनाकर सुबह शाम एक एक चम्मच सादा पानी के साथ सेवन करो पीलिया रोग में लाभ होगा।
  18. आलुबुखारा खाने से पीलिया में आराम मिलता है। खरबुजा खाने से भी रोगी को आराम मिलेगा।
  19. प्याज को बारीक काटकर नींबू के रस या सिरके में डालकर खाने से गंभीर से गंभीर पीलिया भी ठीक हो जाएगा।

Tags

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Top Post Ad

Below Post Ad